Recents in Beach

header ads

9 साल की बच्ची से रेप करने वाले का पिता ने काटा प्राइवेट पार्ट

9 साल की बच्ची से रेप करने वाले का पिता ने काटा प्राइवेट पार्ट 


रेप और छेड़छाड़ के मामले बहुत ज्यादा बढ़ गए हैं और ये दिन प्रतिदिन बढ़ते ही जा रहे हैं और बहुत बार इनके अपराधी बच निकलते हैं, ऐसा ही एक मामला दक्षिण अफ्रीका का सामने आया है जिसमें उसने अपनी 9 साल की बच्ची से रेप करने वाले का प्राइवेट पार्ट ही काट दिया |

दुष्कर्म के इस आरोपी को इस बार ऐसी सज़ा मिली है की पढ़कर आप भी हैरान हो जाओगे, आपने अक्सर लोगों को यह कहते सुना होगा की रेप करने वालों का प्राइवेट पार्ट ही काट देना चाहिए, यहाँ एक शख्स ने हकीकत में ही बदला लेने के लिए रेप के आरोपी को ऐसी ही सजा डे डाली |

दक्षिण अफ्रीका में एक शख्स अपनी नौ साल की मासूम से दुष्कर्म की खबर सुनकर खुद को रोक नहीं पाया और उसने आरोपी का प्राइवेट पार्ट काट डाला, 66 साल के इस आरोपी का प्राइवेट पार्ट कटने के बाद ईलाज के दौरान ही मौत हो गई |

बताया जा रहा है की आरोपी धर्म गुरु था, यहाँ एक शख्स को उसकी पत्नी ने बताया की उनकी 9 साल की बच्ची का धर्म उपदेशक मास मलगास ने रेप किया है, घटना से जुड़े गवाह और पुलिसकर्मी का कहना है की इस कपल ने अपने दोस्त के साथ मिलकर पहले आरोपी को ढूँढा और फिर बदला लेने के इरादे से उसके घर घुस गया

उन्होंने पहले तो आरोपी धर्मगुरु के साथ मारपीट की और फिर उसका प्राइवेट पार्ट काट दिया, इतना ही नहीं, गंभीर रूप से घायल इस शख्स को ये लोग पुलिस स्टेशन भी ले गए ताकि उसे गिरफ्तार कराया जा सके, पुलिस ने आरोपी को तुरंत चिकित्सा सहायता दिलानी की कोशिश की लेकिन आरोपी की इलाज के दौरान ही मौत हो गई |

जबकि पुलिस कर्मी के मुताबिक, घटना में यह अभी तक साबित नहीं हो सका की क्या सच में घर्म उपदेशक ने बच्ची से रेप की कोशिश की थी या नहीं, पुलिस ने प्राइवेट पार्ट काटने वाले शख्स को अपनी हिरासत में ले लिया है और मामले की जांच कर रही है |

सोशल मीडिया पर घटना के वायरल होने पर इस बात को लेकर बहस तेज हो गई है की आखिर धर्मगुरु ऐसी हरकतें क्यों कर रहे हैं, पूरी दुनिया में धर्मगुरुओं के इस तरह के कृत्य को लेकर एक बार फिर से बहस छिड़ गई है, कुछ लोग प्राइवेट पार्ट काटने वाले शख्स की तारीफ़ कर रहे हैं तो कुछ इसकी निंदा कर रहे हैं |

धर्मगुरुओं द्वारा बच्ची के साथ रेप का यह कोई पहला मामला नहीं है, इससे पहले भी ऐसी घटनाएं भारत सही दुनिया के कई अलग अलग देशों में हो चुकी है, अमेरिका, नाइजीरिया में भी धर शिक्षकों ने कुछ इसी तरह की घटनाओं को अंजाम दिया है |

Post a Comment